REDVERT

Competition Exam, Economics, Education, World

दुनिया में सबसे ज्यादा पैसे वाली नौकरी कौन सी है?

admin

वर्तमान समय में युवा वर्ग को सबसे अधिक चिंता अपने करियर के लिए होती है। 12वीं के बाद छात्र सबसे अधिक करियर को लेकर परेशान होता है, क्योंकि वह चाहता है, कि उन्हें कोई ऐसे नौकरी मिले जिससे वह अच्छे पैसे कमा सके और लोगों के बीच में अपनी एक अलग पहचान बना सके। यहाँ आपको हम कुछ नौकरियों के बारे में बता रहे है, जो भारत में सबसे अधिक वेतन  प्रदान करती हैं, और कुछ ऐसी नौकरियों के बारे में जानेंगे जिससे अच्छे वेतन के साथ-साथ आप देश और विदेश में भी अपना नाम कमा सकते हैं।

1.चार्टर्ड अकॉउंटेंट (Chartered Accountant)

चार्टर्ड अकाउंटेंन्ट अर्थात सीए बनने के लिए छात्र को 12वीं करना अनिवार्य है, और छात्र ने स्नातक कर लिया है, तो वह चार्टर्ड अकॉउंटेंट पद के लिए होनें वाली परीक्षा में शामिल हो सकता है। चार्टर्ड अकॉउंटेंट की परीक्षा दुनिया की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक है। परीक्षा में सफल होनें के बाद छात्र को बैंकिंग, वित्त विभाग और कर विभाग के उद्योगों में नौकरी मिलती है। एक एक चार्टर्ड एकाउंटेंट वित्तीय लेखा, कर प्रबंधन, लेखा परीक्षा, लागत लेखा, बैंकिंग और परामर्श के विभिन्न क्षेत्रों में काम कर सकता है। एक नया सीए 5-7 लाख रुपये प्रति वर्ष के कमा सकता है। अनुभव बढ़ने के साथ-साथ और यदि एमबीए की डिग्री भी है, तो उनकी सैलरी 18 से 24 लाख प्रतिवर्ष हो सकती है। lekhpal

2.आईटी और सॉफ्टवेयर इंजीनियर्स (IT & Software Engineers)

वर्तमान समय टेक्नोलॉजी का समय है। इस क्षेत्र में कार्य करने वाले लोगों के लिए यह आवश्यक होता है, कि वह अपने आप को बदलती हुई तकनीक से अपडेट करते रहें, ताकि वह नए क्षेत्र में उभरती चुनौतियों का सामना कर सकें| इस क्षेत्र के एक सॉफ्टवेयर  इंजीनियर ट्रेनी को लगभग 1.5 से  2.5 लाख रुपये प्रति वर्ष सैलरी मिलती है, लेकिन जैसे ही सॉफ्टवेयर इंजीनियर / प्रोग्रामर एक कदम ऊपर चढ़ता है, तो उसकी सैलरी तीन लाख रुपये से 6 लाख रुपये प्रति वर्ष पर पहुँच जाती है| इसी सेक्टर में प्रोजेक्ट लीड की सैलरी 12 लाख रुपये प्रतिवर्ष से 19 लाख प्रतिवर्ष के बीच होती है| इस क्षेत्र में बेहतर वेतन के साथ ही अन्य अंतरराष्ट्रीय प्रोजेक्ट मिलते हैं, जिनके लिए प्रतिभाशाली लोगों को विदेश जाने के अवसर भी मिलते हैं|

3.विमानन क्षेत्र के पेशेवर (Aviation Professionals)

इस सेक्टर में कार्य करने वालों में पायलट, एयर होस्टेस, ग्राउंड स्टाफ आदि आते हैं| इस क्षेत्र में जंबो पायलटों और नियमित पायलटों (कार्गो या यात्री एयरलाइंस में) दोनों का औसत वेतन 7 लाख रुपये से लेकर 9.5 लाख रुपये प्रति वर्ष के बीच होता है| एयर-होस्टेस की सैलरी चार लाख रुपये से लेकर छह लाख रुपये प्रतिवर्ष के बीच होती है, जबकि और एयर ट्रैफिक कंट्रोलर्स को प्रतिवर्ष 5 से 6 लाख रुपये वेतन मिलता है| ssc.nic.in calendar

4.डॉक्टर (Doctor)

डॉक्टर बनना एक ऐसी जॉब है, जिसमें आप पैसे कमाने के साथ-साथ देश की सेवा भी कर सकते हैं, और अपनी पहचान देश और विदेश में बना सकते हैं। एक मेडिकल प्रोफेशनल होने पर कर्मचारी के रूप में बड़ी राशि सैलरी के रूप में प्राप्त कर सकते हैं| इसमें आप एक मजबूत और सुरक्षित करियर बना सकते हैं| यह भारत के सबसे अधिक पैसा देने वाले क्षेत्रों में गिना जाता है| हालाँकि सरकारी कर्मचारी के रूप में डॉक्टर को सैलरी कम मिलती है, लेकिन प्राइवेट क्षेत्र में काम करने वाले डॉक्टरों को बहुत अधिक लगभग 30 लाख रुपये से लेकर 50 लाख रुपये प्रति वर्ष की सैलरी प्राप्त होती है|

5.व्यापार विश्लेषक (Business Analytics)

इस क्षेत्र में कार्य करनें के लिए आपकी गणित (मुख्य रूप से सांख्यिकी और प्रायिकता) अच्छी होनी चाहिए, साथ ही तेजी से गणना करने की क्षमता भी होनी चाहिए| इस सेक्टर में अच्छी सैलरी होने के साथ साथ रोजगार की व्यापक संभावनाएं होती हैं| इस सेक्टर में काम करने वालों के लिए शुरुआत में 6 लाख से 8 लाख के बीच, तथा अनुभवी को 20 से 25 लाख के बीच सैलरी प्राप्त होती है|

6.विधि पेशेवर (Law Professionals)

यदि आप लॉ अर्थात कानून को बेहतर तरीके से समझते हैं और लोगों की बातों में आसानी से कमियां निकाल लेते हैं, साथ ही साक्ष्य खोजने में निपुण हैं, तो यह क्षेत्र आपके लिए बिल्कुल सही है| नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी से पढ़े फ्रेशेर्स को 6 लाख से लेकर 9 लाख तक वार्षिक वेतन मिलता है| चार से पांच वर्ष का अनुभव हो जानें पर यह पैकेज बढ़कर 10-15 लाख रुपये प्रति वर्ष हो जाता है|

7.तेल और प्राकृतिक गैस क्षेत्र (Oil and Natural Gas Sector)

इस क्षेत्र में एक कर्मचारी को शुरुआत में 4 से 6 लाख प्रति वर्ष का पैकेज मिलता है। भारत में आईओसीएल, पीएसयू जैसे ONGC, आईओसीएल और भारत पेट्रोलियम जैसे कई कंपनियां जॉब प्रदान करती हैं। PSUs अतिरिक्त लाभ और लाभ के साथ वेतन आयोग के अनुसार वेतन प्रदान करते हैं। यह कंपनियां निजी क्षेत्र की कंपनियों जैसे ब्रिटिश गैस, रिलायंस एनर्जी, हॉलिबर्टन, स्ल्मबर्गर और शैल की तरह ही बेहतर सैलरी प्रदान करती हैं। पांच या छः वर्ष के अनुभव वाले और उच्च डिग्री वाले प्रमुख संस्थानों से ग्रेजुएट होने पर 15-20 लाख रुपये प्रति वर्ष से अधिक आय प्राप्त कर सकते हैं।

8.मॉडलिंग और अभिनय (Modeling & Acting)

वर्तमान समय में यह सबसे अधिक पसंद किया जाने वाला सेक्टर है| इसमें काम करने वालों को नाम केसाथ-साथ अच्छी आय भी प्राप्त होती हैं| अभिनय के आधार पर एक नए व्यक्ति को प्रति एपिसोड के लिए 2,000 से 10,000 रुपये मिलते हैं। वहीं एक अनुभवी अभिनेता टीवी शो में 10,000 / 2, 00,000 रुपये प्रति एपिसोड लेते है। फ़िल्म उद्योग में पहली फिल्म की भूमिका और फ़िल्म बजट के अनुसार 5-50 लाख रुपये मिल सकते हैं। मॉडलिंग असाइनमेंट फ़ैशन शो, पत्रिकाओं के लिए प्रिंट विज्ञापन, टीवी विज्ञापनों और बिलबोर्ड विज्ञापन से भिन्न होता है। एक फ्रेशर मॉडल 5000 हजार रुपये से 10, 000 रुपए के बीच कुछ भी चार्ज कर सकता है|

Back to top